दावा – पाक के एफ-16 ने 50 किमी दूर से भारत के लड़ाकू विमानों पर 4-5 एम्राम मिसाइल दागी थीं

0
26
पाक के एफ-16 ने 50 किमी दूर से भारत के लड़ाकू विमानों
पाक के एफ-16 ने 50 किमी दूर से भारत के लड़ाकू विमानों
  • भारतीय सीमा में गिरे एम्राम मिसाइल के टुकड़ों को तलाश रही है सेना
  • एम्राम के एक टुकड़े को सेना ने 28 फरवरी को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पेश किया था
  • 26 फरवरी को भारत ने पाक में घुसकर आतंकी ठिकानों पर हमला किया था, अगले दिन पाक के लड़ाकू विमान भारतीय सीमा में घुस आए

नई दिल्ली. भारत की एयर स्ट्राइक के जवाब में पाक के एफ-16 की कार्रवाई को लेकर नया खुलासा हुआ है। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, पाक एफ-16 के पायलटों ने करीब 50 किमी दूर से 4 से 5 अमेरिकी एम्राम मिसाइलें भारतीय लड़ाकू विमानों सुखोई-30 और मिग-21 बाइसन पर दागे थे। 26 फरवरी को भारत के मिराज-2000 लड़ाकू विमानों ने मुजफ्फराबाद, चकोटी और बालाकोट के आतंकी ठिकानों पर कार्रवाई की थी। 27 फरवरी को पाक के 3 एफ-16 भारतीय सीमा में घुस आए थे, जिसमें से एक को मिग-21 बाइसन ने मार गिराया था।

तलाशी अभियान चला रही सेना

  1. सूत्रों ने न्यूज एजेंसी के मुताबिक- पाक लगातार यही दावा कर रहा है कि 27 फरवरी की कार्रवाई में एफ-16 का इस्तेमाल नहीं किया गया। वहीं, पाक के दावे को बेनकाब करने के लिए भारतीय सेना जमीन पर उन संभावित क्षेत्रों की गहन खोज कर रही है, जहां एम्राम मिसाइल का मलबा गिर सकता है।
  2. सूत्रों के मुताबिक- एफ-16 ने 50 किमी दूर से चार से पांच एम्राम मिसाइलें भारतीय विमानों पर दागीं। हालांकि इन सभी का निशाना नाकाम रहा। जब हमें एम्राम मिसाइलों के ज्यादा टुकड़े मिल जाएंगे, जो टारगेट को निशाना बनाने में चूकीं और हमारी तरफ गिर गईं, तो पाकिस्तान को और बेनकाब किया जा सकेगा।
  3. 27 फरवरी को पाक एफ-16 को भारतीय लड़ाकू विमानों ने पीछे धकेल दिया था। इसी दौरान मिग-21 क्रैश हो गया था, जिसके चलते विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान पाक के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में गिर गए थे। 1 मार्च को पाक ने अभिनंदन को भारत को सौंपा था। वह वाघा बॉर्डर के रास्ते आए थे।
  4. पिछले हफ्ते पाकिस्तान का एक और झूठ सामने आया था। भारत द्वारा मार गिराए पाक के एफ-16 विमान के मलबे की फोटो आई थी। इसमें पाक के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में मिले मलबे के पास पाक के सैन्य अफसर भी खड़े दिखाई दिए थे। पाक का दावा था कि भारत ने हमारा कोई विमान नहीं गिराया।

    F-16

  5. भारत की तीनों सेनाओं ने 28 फरवरी को संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेस की थी। इस दौरान सेना ने पाकिस्तानी वायुसेना द्वारा भारतीय सीमा में एफ-16 विमान से हमला करने के सबूत पेश किए। वायुसेना के एयर वाइस मार्शल आरजीके कपूर ने कहा कि पाकिस्तान ने सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने के लिए एम्राम मिसाइल का इस्तेमाल किया, इसे केवल पाकिस्तान में मौजूद एफ-16 विमान ही दाग सकता है। आर्मी ने एम्राम मिसाइल के टुकड़े भी दिखाए थे।

    AMRAAM

  6. पाक ने तीन झूठ बोले- भारत

    • एयर वाइस मार्शल आरजीके कपूर ने कहा, ”पाक ने कई झूठे बयान दिए। 2 एयरक्राफ्ट मार गिराने और 3 पायलट मार गिराने की बात गलत थी। पाकिस्तान ने बाद में कहा कि एक भारतीय पायलट उनकी कस्टडी में है। शाम को उन्होंने सच को कबूल किया।”
    • ”उन्होंने कहा कि गैर रिहायशी और गैर सैन्य इलाके में उन्होंने बम गिराए, जबकि ये सभी बम भारतीय सेना के कैम्पस में गिरे थे।”
    • ”पाक ने कहा था कि कोई एफ-16 इस्तेमाल नहीं किया था। लेकिन, इसके सबूत इलेक्ट्रॉनिक सिग्नेचर, मिसाइलों के टुकड़ों से ये साबित हो गया कि पाकिस्तान ने एफ-16 का इस्तेमाल किया। हमें एफ-16 को मार गिराने का भी सबूत मिला।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here